11.5 C
London
Thursday, March 23, 2023

एनडीबी कालेज नोहर में पिछले 10 सालों में एस एफ आई व एबीवीपी की रही है जोरदार टक्कर ,एक बार एस एफ आई व एक बार एबीवीपी लगा चुकी है जीत की हैट्रिक

- Advertisement -
- Advertisement -

सफरनामा न्यूज
राजेश इंदौरा (फेफाना/नोहर)

आज अंतिम दिन नोहर में
एबीवीपी,एसएफआई, इनसो सहित तमाम छात्र संगठनों के उमीदवारों ने शीर्ष पदों पर जीत हासिल करने के लिए आज अंतिम दिन प्रत्याशियों और उनके समर्थकों ने एड़ी चोटी का जोर लगाकर पूरी ताकत झोंक दी है। प्रचार का अंतिम दिन होने के कारण जनपद के कोने-कोने में छात्र उम्मीदवार अपने जनसमूह के साथ वाहन, बाइक जुलूस निकाल कर मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए जुगत बिठाते नजर आ रहे हैं।
एनडीबी कालेज नोहर में एस एफ आई जीत की हैट्रिक की कोशिश में है तो एबीवीपी भी इस बार अपनी तगड़ी मौजूदगी दर्ज करवा रहे हैं।

राजकीय महाविद्यालय नोहर छात्र संघ चुनाव एक नजर-

पिछले 10 सालों में अगर हम बात करे तो एस एफ आई का दबदबा रहा है। 2015 से 2017 तक लगातार तीन साल एबीवीपी के हैट्रिक लगाने के बाद एस एफ आई ने वापसी करते हुए लगातार 2018,2019 में दो बार चुनाव जीते हैं और अब दूसरी बार हैट्रिक लगाने की नजर  पर है।

वहीं 2010 से 2019 तक पिछले 10 सालों में अगर हम बात करे तो 06 बार एस एफ आई व 04 बार एबीवीपी ने चुनाव जीता है। और इन 10 सालों में 01 बार एस एफ आई व 01 बार एबीवीपी ने ‌हैट्रिक मारी है। जिस कारण पूर्व में अध्यक्ष रहने के कारण दोनों पार्टियों के छात्रों में जोश हैं। दोनों ही छात्र संघटनों से जुड़े विद्यार्थी इन दिग्गजों में रोल मॉडल के रूप में अपना भी भविष्य देखते हैं।

गणित गड़बड़ा सकती है इनसो-

फाइल फोटो

जिस तरह जोड़-तोड़ की राजनीति चल रही है, उसमें इनसो
एसएफआई व एबीवीपी का गणित गड़बड़ा सकती हैं।
2019 में इनसो पार्टी ने नोहर में इंट्री की थी और भगतसिंह कालेज से गुडिया सैन ने एक सीट भी निकाली थी और इस बार भी इनसो ने सभी कालेजों में अपने उम्मीदवार उतारकर दावा मजबूत किया है। इसलिए इनसो दोनों पार्टियों क गणित जरूर बिगाड़ेगी।
हालांकि प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार
चुनाव में सीधा मुकाबला एसएफआई और एबीवीपी के बीचोबीच देखा जा रहा है। अभी सभी को इंतजार है कि इस बार किसके सर ताज  सजेगा।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here